Amoxicillin in Hindi उपयोग | दुष्प्रभाव | खुराक | सावधानियाँ | दूसरे ब्रांड | सवाल-जबाब

अमोक्सिसिलिन एक Penicillin समुह का एंटीबायोटिक है, जो बैक्टीरिया से उत्पन्न संक्रमण को कम करता है तथा खत्म करता है। अमोक्सिसिलिन उन्हीं बीमारियों को ठीक कर पाता है जो बैक्टीरिया से उत्पन्न होते हैं अगर अमोक्सिसिलिन का इस्तेमाल Viral fever और Common fever या वायरस और फंगल से उत्पन्न संक्रमण में करते हैं तो अमोक्सिसिलिन उन संक्रमण को ठीक नहीं कर पाता है।

और पढ़ें  rabeprazole & domperidone

अमोक्सीसिलिन का उपयोग मुख्यता बुखार (Bacterial Fever), टॉन्सिलाइटिस (Tonsillitis), ब्रोंकाइटिस (Bronchitis), निमोनिया (Pneumonia), फैरिंजाइटिस (Pharyngitis),Urinary Track Infection (UTI),Upper Respiratory track Infection (URTI)  को ठीक करने के लिए किया जाता है। Amoxicillin एक एंटीबायोटिक है इसलिए इसकी पूरी और समय पर खुराक लेना अति आवश्यक होती है।

और पढ़ें   खाँसी की होम्योपैथिक दवाइयाँ

अमोक्सिसिलिन कैसे काम करता है? : How does Work Amoxicillin in Hindi?

बैक्टीरिया दो तरह के होते हैं गुड बैक्टीरिया और बैड बैक्टीरिया गुड बैक्टीरिया हमारे पूरे शरीर के रक्षात्मक कवच को मजबूती प्रदान करता है और बैड Bacteria हमारे पूरे शरीर में संक्रमण पैदा करता है। अमोक्सिसिलिन उस वैड बैक्टीरिया को पहचान कर उस बैड बैक्टीरिया के सेल वाल को बाधित करता है जो प्रोटीन से बने होते हैं। बैड बैक्टीरिया के सेल बाल खत्म होने के बाद वह बैक्टीरिया मर जाता है तथा उसकी ग्रोथ रुक जाती है।

और पढ़ें   Ceftriaxone Dosage

अमोक्सिसिलिन का उपयोग की सलाह किन बीमारियों में दी जाती है : Uses of Amoxicillin in Hindi

अमोक्सीसिलिन एक एंटीबायोटिक है, और एंटीबायोटिक का उपयोग मुख्यतः बैक्ट्रिया से उत्पन्न बीमारियों में ही की जाती है।अमोक्सीसिलिन का उपयोग मुख्यतः

कुछ बुखार ऐसे भी हैं जो बैक्टीरिया से उत्पन्न होते हैं उनमें से कुछ सामान्य बुखार भी हैं। वैसे बुखारो में भी अमोक्सिसिल्लिन का इस्तेमाल ठीक करने के लिए किया जाता है।

  • टॉन्सिलाइटिस (Tonsillitis)

यह स्टेफिलोकोक्कस निमोनिया के द्वारा होने वाली संक्रमण है। इस संक्रमण में टॉन्सिल में सूजन पैदा होती है जिसके कारण गले में दर्द होना शुरू हो जाता है। इस संक्रमण को भी दूर करने में अमोक्सिसिलिन का इस्तेमाल किया जाता है।

  • फैरिंजाइटिस (Pharyngitis)

यह संक्रमण भी स्टेफिलोकोक्कस निमोनिया के कारण होता है। इसमें हमारे थ्रोट(Throat) में संक्रमण पैदा होता है और उसमें सूजन हो जाती है। इस संक्रमण को ठीक करने के लिए अमोक्सिसिल्लिन का इस्तेमाल किया जाता है।

  • ब्रोंकाइटिस (Bronchitis)

स्ट्रैप्टॉकोक्कस निमोनियाई (Streptococcus pneumonia), हिमोफिलस इनफ्लुएंजाए (Haemophilus influenza) और कुछ माइकोप्लाजमा निमोनिया (Mycoplasma pneumonia) के कारण हमारे फेफड़े के Bronchial में सूजन हो जाती है जिसे ब्रोंकाइटिस कहते है। अमोक्सिसिल्लिन उस ब्रोंकाइटिस में दी जाने वाली एक दवा है।

  • कान के संक्रमण (Ear Infection)

कभी-कभी कानों में संक्रमण के कारण कानों में दर्द, कान में मवाद आना शुरू हो जाता है उस परिस्थिति में भी अमाक्सीसिलिन का उपयोग किया जाता है।

  • न्युमोनी  (Pneumonia)

कम्युनिटी एक्वायर्ड निमोनिया (Community Acquired Pneumonia)  Amoxicillin के द्वारा ठीक किया जाता है। स्टेफिलोकोक्कस निमोनिया (Strepatococcus Pneumonia) के कारण हमारे Lung में संक्रमण पैदा होता है। जिसके कारण निमोनिया सक्रिय होता है। इससे बच्चे ज्यादा प्रभावित होते हैं।

  • ऊपरी श्वसन संक्रमण (Upper Respiratory Tract Infection)

यह हमारी स्वसन तंत्र का संक्रमण है जो ऊपरी सतह पर पैदा होता है। इस संक्रमण को ठीक करने के लिए भी अमोक्सिसिल्लिन का इस्तेमाल किया जाता है।

  • मूत्र नली का संक्रमण (urinary tract infection) :

मूत्र नली के संक्रमण के लिए भी अमाक्सीसिलिन का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन मूत्र नाली के संक्रमण को पहचानने के लिए कुछ जांच की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। उस जांच से पता चल पाता है कि आपको मूत्र नाली के संक्रमण है या नहीं है और है तो उस संक्रमण में कौन सा दवा चलाया जाएगा।

और पढ़ें    Azithromycin उपयोग,खुराक दुस्प्रवाह।  

अमोक्सिसिलिन  की कीमत : Price of Amoxicillin in Hindi.

  • Amoxicillin 500 mg    Rs 95
  • Amoxicillin 250 mg    Rs 24

अमोक्सिसिलिन के दुष्प्रभाव : Amoxicillin tablet Side-Effects in Hindi.

अमोक्सिसिल्लिन से दुष्प्रभाव सभी लोगों में नहीं देखे गए हैं। अगर आप में किसी भी तरह का दुष्प्रभाव दिखे तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

  • उल्टी/Vomiting
  • पेट दर्द/Stomach pain
  • दस्त होना/Dirrohea
  • सिर दर्द/Headache
  • पेट में गैस/Excessive stomach gas
  • त्वचा पर लाल चकत्ते होना/Rashes on Skin

और पढ़ें   पुराने पेट गैस समस्या के घरेलु उपाय 

अमाक्सीसिलिन की खुराक : Dosage of Amoxicillin Hindi

यहां पर बच्चों और वयस्कों के खुराक के बारे में बताया गया है। यह सभी मामलों में दी जाने वाली अधिकतम खुराक है।

सभी दवाइयों की खुराक बीमारी की जटिलता और व्यक्ति के उम्र तथा वजन पर निर्भर करता है अगर बीमारी की जटिलता ज्यादा होगी तो दवाइयों की खुराक को भी बढ़ाया जा सकता है। अगर किसी व्यक्ति का वजन ज्यादा होता है उस संदर्भ में भी दवाइयों की खुराक को बढ़ाया जा सकता है। कभी-कभी बीमारियों की जटिलता और व्यक्ति के वजन को देखते हुए दवाइयों की खुराक को दोगुना करना पड़ सकता है। इसके लिए जरूरी है कि दवाइयों के संपूर्ण खुराक को जानने के लिए आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

और पढ़ें  cefpodoxime Dogase | Cefixime Dogase

बच्चों और वयस्कों के लिए खुराक : Child and Adult Dosage of Amoxicillin.

यह बच्चों और वयस्कों की दी जाने वाली अधिकतम खुराक है।

सभी बीमारियों में अलग-अलग दिनों तक इस दवा का उपयोग किया जाता है इसके लिए आप अपने नजदीकी के डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

कान, नाक, गला, त्वचा, UTI संक्रमण  25mg/kg/day in Divided Dosage every 12 hr
URTI 45mg/kg/day in Divided Dosage every 12hr. 

 सावधानियां : Precaution

  • इस दवा का उपयोग आप अपने डॉक्टर या नजदीकी फार्मासिस्ट के निर्देशानुसार ही करें।
  • डॉक्टर से परामर्श लेने से पहले आप अपने वर्तमान दवाओं की स्थिति के बारे में बताएं।
  • अगर आपको अमोक्सिसिलिन से किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव है तो आप इस दवा का उपयोग ना करें।
  • यह दवा एक एंटीबायोटिक है इसलिए इसकी पूरी और समय पर खुराक लेना आवश्यक होता है।
  • अगर आप इस दवा का खुराक पूरी और समय पर नहीं लेते हैं तो आगे होने वाली बीमारियां आपको इस दवा से ठीक नहीं हो पाएंगी बीमारियां इस दवा के अनुकूल (Resistance) हो जाएंगे।

और पढ़ें   Amoxicillin & clavulanic acid dosage

अमोक्सिसिल्लिन के दूसरे ब्रांड : Other Brand of Amoxicillin in Hindi (Substitute)

अमोक्सिसिल्लिन के बहुत सारे ब्रांड दवा दुकानों में मौजूद है। इनमें से कुछ मुख्य निम्नलिखित है।

ब्रांड नाम   कंपनी नाम
Amoxil Capsule/DS Zydus Cadila
Amoxybid Capsule/DS GSK Pharmaceuticals Ltd.
Mox tablet/capsule/Ds Ranbaxy Laboratories Ltd
Acmox Capsule/tablet Acme Pharmaceuticals Ltd.
Imox  D-tablet/Ds IPCA Laboratories Ltd.
Moxikind tablet/Ds Mankind Pharmaceuticals Pvt Ltd

और पढ़ें   cefpodoxime Uses,Dosage,Side-Effects

अक्सर पूछे जाने बाले सवाल :

Q – क्या मूत्र मार्ग में जलन के लिए अमोक्सिसिल्लिन टेबलेट का इस्तेमाल किया जा सकता है?

Yes, मूत्र मार्ग में जलन यानी यूरिनरी ट्रैक्ट इनफेक्शन, यह एक बैक्टीरियल इनफेक्शन है। इसलिए इस बीमारी में आप अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन पहले आप अपने नजदीकी डॉक्टर से परामर्श जरूरत ले क्योंकि मूत्र मार्ग मे जलन के लिए कुछ जांचें आवश्यक होती हैं।

Q – अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट को कुछ खाने के बाद इस्तेमाल करना चाहिए या खाली पेट इस्तेमाल करना चाहिए?

अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट का इस्तेमाल कुछ खाने के बाद करें क्योंकि खाली पेट में इसके इस्तेमाल से कुछ दुष्प्रभाव देखे गए हैं।

Q – क्या अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट का दुष्प्रभाव सभी लोगों में देखा गया है?

 नहीं, इसका दुष्प्रभाव सभी लोगों में नहीं देखा गया है। लेकिन आप को किसी भी तरह का दुष्प्रभाव दिखे तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

Q – क्या अमोक्सिसिल्लिन आदत या लत बन सकती है?

नहीं, सिर्फ एंटीबायोटिक दवा है इसकी आदत या लत नहीं लग सकती।

Q – अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है? 

हाँ, अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है। जब तक इसकी अत्यधिक जरूरत न हो इसका इस्तमाल न करें और  इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। 

Q – क्या अमोक्सिसिल्लिन टैबलेट स्तनपान कराने वाली महिलाएं इस्तेमाल कर सकती हैं?

अमोक्सिसिल्लिन टेबलेट का इस्तेमाल स्तनपान के द्वारा किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले आप अपना नजदीक के डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। 

Q – क्या इस टेबलेट का दुस्प्रवाह शराब के साथ देखा गया है?

इसका कोई प्रमाण अभी तक नहीं मिला है,लेकिन आप जब भी इस टेबलेट का इस्तमाल करे शराब का इस्तमाल न करें। 

और पढ़ें : Read More About Antibiotics



1 Comment

angeliiinaa · February 13, 2019 at 12:08 pm

Hey, could you tell me tips to avoid having amoxicillin rash. Great article to read. thanks for sharing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Stay Home - Stay Safe

COVID-19