Dabur Ashwagandha churna Hindi-पूरी जानकारी

निर्माता कंपनी – Dabur Ayurved 

कीमत – ₹ 136 for 100 gms

लाभ | खुराक | दुष्प्रभाव | सवाल-जबाब

डाबर अश्वगंधा चूर्ण क्या है? : What is Dabur Ashwagandha Churna Hindi?


डाबर अश्वगंधा चूर्ण (Dabur Ashwagandha churna Hindi) डाबर के द्वारा बनाई गई एक आयुर्वेदिक चूर्ण है। इसमें जो घटक मिलाए गए हैं वह पूरी तरह से आयुर्वेदिक है। डाबर अश्वगंधा चूर्ण बहुत बीमारियों में बेहतर काम करता है। डाबर अश्वगंधा चूर्ण रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है, पुरुषों के यौन क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है, शारीरिक कमजोरी को दूर करता है तथा शारीर को शक्ति प्रदान करता है।

और पढ़ें  Himalaya Ashwagandha | Patanjali Ashwashila

इसमें पाए जाने वाले घटक : Ingredients in Dabur Ashwagandha Churna Hindi.


अश्वगंधा चूर्ण

अश्वगंधा क्या है ? : What is Ashwagandha?


अश्वगंधा एक जड़ी बूटी है।  इसे ‘भारतीय जिनसेंग’ के नाम से भी जाना जाता है। अश्वगंधा भारत के प्राचीनतम जड़ी-बूटियों में से एक है।अश्वगंधा का मतलब घोड़े जैसा महक होता है। जब अश्वगंधा के जड़ियों को निकाला जाता है तो उसमें से पसीने से तर घोड़े की महक आती है इसी से इसका नाम अश्वगंधा रखा गया है। डाबर अश्वगंधा चूर्ण (Dabur Ashwagandha churna) इसी जड़ी बूटियों से बनाई हुई एक आयुर्वेदिक दवा है यह चूर्ण अश्वगंधा के पौधे की जड़ों से  तैयार की जाती है। प्राचीन समय से अश्वगंधा का उपयोग सभी उम्र के लोगों पर किया जाता रहा है बच्चों में दुर्बलता कम करने के लिए और पुरुषों और महिलाओं में प्रजनन कार्य को बढ़ाने के लिए अश्वगंधा की एक टॉनिक के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है।

और पढ़ें Dabur lal tel ke fayde | Itraconazole Hindi

डाबर अश्वगंधा चूर्ण का उपयोग : Uses of Dabur Ashwagandha churna Hindi.


Dabur Ashwagandha churna Hindi का इस्तेमाल मुख्यतः इन बीमारियों में की जाती है। …

  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में
  • शारीरिक दुर्बलता को कम करने में
  • यौन क्षमता को बढ़ाने में
  • शुक्राणुओं की गुणवत्ता बढ़ाने में
  • तनाव को खत्म करने में
  • नींद ना आने की समस्या में
  • गठिया और मधुमेह की बीमारियों में
  • रक्त की कमी को पूरा करने में
  • शारीरिक थकावट दूर करने में
  • मांसपेशियों को बढ़ाने में
  • जवानी बरकरार रखने में

डाबर अश्वगंधा चूर्ण एक शक्तिशाली सेक्स वर्धक आयुर्वेदिक चूर्ण है


डाबर अश्वगंधा चूर्ण आपके सेक्स क्षमता को बढ़ाता है और नपुंसकता को भी खत्म करता है। 

तनाव खत्म करता है।


डाबर अश्वगंधा चूर्ण के इस्तेमाल से जो आपके दिमाग में तनाव होते हैं उसे भी खत्म  करता है। 

नींद ना आने की समस्या में सुधार करता है


डाबर अश्वगंधा चूर्ण आपके गहरी नींद को बढ़ावा देता है और अगर आपको नींद ना आने की समस्या है तो उस समस्या से भी निजात दिलाता है। 

गठिया और मधुमेह में उपयोगी है।


डाबर अश्वगंधा चूर्ण गठिया और मधुमेह रोगियों में भी बहुत ही उपयोगी साबित हुआ है।

शारीरिक फिटनेस और जवानी बरकरार रखता है।


डाबर अश्वगंधा चूर्ण आपके शारीरिक फिटनेस को बरकरार रखता है और आपको चुस्ती-फुर्ती प्रदान करता है कहां जाता है अश्वगंधा के रेगुलर इस्तेमाल से आपकी जवानी जल्दी नहीं डलती है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है


Dabur Ashwagandha Churna आपके अंदर बिमारीयो से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है जिसके कारण आपके शरीर में बहुत जल्दी कोई भी बीमारी उत्पन्न नहीं होती यानी आप निरोग रहना शुरू हो जाते हैं।

और पढ़ें Best baby massage oil Hindi

पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण की खुराक : Dabur Ashwagandha Churna Dosage.


डाबर अश्वगंधा चूर्ण का इस्तमाल भोजन के बाद प्रतिदिन 1 से 3 ग्राम दो बार कर सकते हैं। अगर आपकी समस्या जटिल है तो आप इसका इस्तमाल प्रतिदिन 3 बार या डॉक्टर से सलाह लेकर कर सकते हैं। इसका प्रभाव दूध के साथ बेहतर देखा गया है लेकिन आप पानी के साथ भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह एक आयुर्वेदिक दवा है इसलिए इसका परिणाम दिखने में कुछ समय जरुर लग सकता है।

 
एक चम्मच 1 से 3 ग्राम लगभग दो बार सुबह-शाम दूध के साथ

 Dabur Ashwagandha Churna एक आयुर्वेदिक दवा है। इसलिए इसकी काम करने की क्षमता बहुत धीरे-धीरे होती है।

किसी भी आयुर्वेदिक दवा कि काम करने की क्षमता धीरे होती है लेकिन वह काम जरूर करता है। इसलिए जब भी आप आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करें यह सोचकर करें कि उसका उपयोग कुछ लंबे समय के लिए करना होगा। बहुत सारे लोग आयुर्वेदिक दवाओ का इस्तमा तो करते हैं लेकिन कुछ दिनों के बाद वह सोचने लगते हैं कि अभी तक कुछ फायदा क्यों नहीं हुआ है और कुछ दिन इस्तमाल करने के बाद वह उन दवाओं को खाना बंद कर देते हैं।  वह सही नहीं होता आप जब भी आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करें पूरी खुराक के साथ करें ताकि उन आयुर्वेदिक दवाओं से आपकी बीमारियां पूरी तरह से खत्म हो सके। 

डाबर अश्वगंधा चूर्ण का दुष्प्रभाव : Dabur Ashwagandha Churna Side effects.


यह एक आयुर्वेदिक दवा है इसलिए इसका दुष्प्रभाव अभी तक नहीं देखा गया है। डाबर अश्वगंधा चूर्ण अगर आप इस्तेमाल करते हैं और किसी भी तरह का आप में दुष्प्रभाव दिखता है तो आप तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

  • 12 साल से कम उम्र के व्यक्ति इसका इस्तेमाल ना करें।
  • खुराक के अधिक जानकारी के लिए अपने नजदीक के डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।
  • अश्वगंधा चूर्ण के ज्यादा मात्रा लेने से आप में दुष्प्रभाव दिख सकती है।
  • बच्चों की पहुंच से डाबर अश्वगंधा चूर्ण को दूर रखें 

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल ।


Q – डाबर अश्वगंधा चूर्ण का इस्तेमाल कितने समय तक करना चाहिए?

यह आपके बीमारी की जटिलता पर निर्भर करता है कि आप को अश्वगंधा कितने दिनों तक इस्तेमाल करना चाहिए। डाबर अश्वगंधा चूर्ण इस्तेमाल करने से पहले आप अपने डॉक्टर से अपनी बीमारी की जटिलता के बारे में जरूर बताएं और परामर्श लें।

Q – क्या डाबर अश्वगंधा चूर्ण को रेगुलर लेने से यह आदत  यार लत लग सकती है?

बहुत ही कम है ऐसी दवाइयां है जिसके खाने से आदत या लत लग सकती है। किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले आप अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें।

Q – क्या डाबर अश्वगंधा चूर्ण स्तनपान के दौरान लेना उचित हेगा?

अपने नजदीकी स्त्री रोग विशेषज्ञ से सलाह लेकर ही किसी भी दवा का उपयोग करें।

Q – क्या डाबर अश्वगंधा चूर्ण किसी भी मेडिकल दुकान पे मिल जायेगी ?

हाँ , मिल जाएगी ,ये एक  डाबर कम्पनी का दवा है इसलिए किसी भी अच्छी डाबर दुकान में ये मिल जाएगी।

Q – क्या डाबर अश्वगंधा चूर्ण सभी यौन संबंधित बीमारियों को ठीक कर पाएगा ?

इसकी समीक्षा कर पाना तो बहुत मुश्किल होगी कि Dabur Ashwagandha Churna सारी यौन संबंधित बीमारियों को ठीक कर पाएगी या नहीं लेकिन वह उन यौन संबंधित बीमारियों में सुधार जरूर करेगी।

अपने स्वास्थ्य के लिए और पढ़ें : More.