Himalaya Pilex tablet Hindi सामग्रियाँ/उपयोग/खुराक/दुष्प्रभाव | Only HEALTHY Advice-Health Expert

निर्माता कंपनी – Himalaya drug 

सामग्रियाँ | उपयोग | खुराक | दुष्प्रभाव

Himalaya pilex tablet एक आयुर्वेदिक दवा है। जिसका निर्माण हिमालया ड्रग कंपनी के द्वारा किया जाता है। हिमालय पाइलेक्स दो प्रारूपों में दवा दुकानों में उपलब्ध है Himalaya pilex tablet और Himalaya pilex ointment. हिमालय पाइलेक्स टेबलेट दोनो तरह के बवासीर (खूनी और वादी बवासीर)  के समस्या को खत्म करने में मदद करती है।

बवासीर किसे कहते हैं? : What is Piles in Hindi?


मलद्वार के अंतिम भाग की शिराओं के सूजने, फूलने अथवा बढ़ जाने को बवासीर कहा जाता है। इसी फूली हुई मलद्वार को मस्सा कहा जाता है। इसका आकार मटर के दाने जैसा फैला हुआ होता है अधिक फुली हुई मस्सों का आकार मटर के दाने से भी बड़े हो सकता हैं। बवासीर रोग में कभी तो एक ही मस्सा होता है और कभी एक से अधिक मस्से आपस में जुड़े हुए दिखाई पड़ते हैं।

यह मस्से यदि मलद्वार के बाहरी भाग में रहे तो बहिर्बली (External piles) या बादी बवासीर और यदि मलद्वार के भीतरी भाग में रहे तो अंतवर्ली (Internal piles) या खूनी बवासीर कहा जाता है। यह मस्से जब फटते हैं तब इन से रक्त बहने लगता है। प्रयह भीतरी मस्से ही अधिक फटते हैं रक्त शराबी मस्सों को खूनी बवासीर कहा जाता है। जिन मस्सों में खून नहीं बहता परंतु केवल दर्द, जलन अथवा खुजली के लक्षण ही प्रकट होते हैं उन्हें बादी बवासीर कहा जाता है। 

बवासीर, पाइल्स या हेमोरॉयड्स जिन लोगों में यह बीमारी उत्पन्न होती है उन लोगों के शरीर में अक्सर अस्वस्थता बनी रहती है।

पाइलेक्स टेबलेट में मिली हुई सामग्रियां : Ingredients in Pilex tablet. 


सामग्रियाँमात्रा
गूगुलू (Guggulu)26mg
शिलाजीत (Shilajit)32mg
नीम का बीज (Neem seeds)14mg
आमला (Amla)32mg
दारूहल्दी (Daru haldi)64mg
बीभीटाकी (Bibhitaki)32mg
हरीटाकी (Haritaki)32mg
अमाल्टास (Amaltas)32mg
कचनारा (Kachnara)32mg
नागकेसर (Nagkesar)6mg

हिमालय पाइलेक्स टेबलेट का उपयोग : Benefits of Himalaya Pilex tablet.


हिमालय पाइलेक्स टेबलेट दोनों तरह के बवासीर को खत्म करने में मदद करता है। बाबासीर के कारण होने वाले दर्द में भी यह उपयोगी साबित होता है। खूनी बवासीर में खून गिरने की समस्या तथा दर्द को खत्म करता है। और बादी बवासीर में मस्से को सुखाने में तथा उससे उत्पन्न दर्द को खत्म करने में मदद करता है।

हिमालय पाइलेक्स टेबलेट की खुराक : Pilex tablet Dosage.


हिमालय पाइलेक्स टेबलेट(Himalaya pilex tablet) खुराक की मात्रा बच्चों में अलग और व्यासको में अलग होती है। इस टेबलेट की अधिकतम मात्रा 1 दिन में 6 टेबलेट तक की हो सकती है। हिमालय पाइलेक्स टैबलेट की खुराक खाना खाने के बाद लेना बेहतर माना जाता है। हिमालया पाइलेक्स टेबलेट को हल्के गर्म पानी के साथ लेने से इसकी क्षमता और ज्यादा बढ़ जाती है। हिमालया पाइलेक्स टेबलेट की खुराक निम्नलिखित है।

बच्चों में1 टेबलेट दिन में 2 or 3 बार
व्यासको में2 टेबलेट दिन में 2 or 3 बार

सभी दवाइयों की खुराक बीमारी की जटिलता और व्यक्ति के उम्र तथा वजन पर निर्भर करता है। अगर बीमारी की जटिलता ज्यादा होगी तो दवाइयों की खुराक को भी बढ़ाया जा सकता है। अगर किसी व्यक्ति का वजन ज्यादा होता है। उस संदर्भ में भी दवाइयों की खुराक को बढ़ाया जा सकता है। कभी-कभी बीमारियों की जटिलता और व्यक्ति के वजन को देखते हुए दवाइयों की खुराक को दोगुना करना पड़ सकता है। इसके लिए जरूरी है कि दवाइयों के संपूर्ण खुराक को जानने के लिए आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

हिमालय पाइलेक्स टेबलेट के दुष्प्रभाव : Pilex tablet side effects in Hindi.


हिमालय पाइलेक्स टेबलेट (Himalaya pilex tablet) एक आयुर्वेदिक मेडिसिन है। इसलिए इसका दुष्प्रभाव अभी तक किसी भी व्यक्ति में देखने को नहीं मिला है। अगर आप इस टेबलेट का इस्तेमाल करते हैं और आपने किसी भी तरह का दुष्प्रभाव देखता है। तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

अक्सर पूछे जाने बाले सवाल 


Q – हिमालय पाइलेक्स टेबलेट को कुछ खाने के बाद इस्तेमाल करना चाहिए या खाली पेट इस्तेमाल करना चाहिए?

हिमालय पाइलेक्स टेबलेट का इस्तेमाल कुछ खाने के बाद करें।

Q – हिमालय पाइलेक्स टेबलेट गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है? 

हाँ, हिमालय पाइलेक्स टेबलेट गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित है। जब तक इसकी अत्यधिक जरूरत न हो इसका इस्तमाल न करें और इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। 

Q – क्या हिमालय पाइलेक्स टेबलेट स्तनपान कराने वाली महिलाएं इस्तेमाल कर सकती हैं?

हिमालय पाइलेक्स टेबलेट का इस्तेमाल स्तनपान के द्वारा किया जा सकता है। इसका इस्तेमाल करने से पहले आप अपना नजदीक के डॉक्टर से परामर्श जरूर करें। 

आपके स्वस्थ से संबंधित और जानकारियाँ



1 Comment

sik kafalı hasan · September 4, 2019 at 11:30 am

Everyone loves what you guys are up too. This sort of clever work and coverage!

Keep up the good works guys I’ve included you guys to blogroll.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *