Himalaya septilin (ड्राप/टैबलेट/सिरप) का खुराक/दुष्प्रभाव/सामग्री

हिमालया सेप्टीलिन(टैबलेट/सिरप/ड्राप)– Himalaya septilin

निर्माता कंपनी – हिमालया ड्रग

समग्रियाँ | चिकत्सकीये गुण | उपयोग | खुराक | दुस्प्रवाह | सवाल-जबाब

(Himalaya septilin) हिमालया सेप्टीलिन एक आयुर्वेदिक दवा है। जो एक से अधिक बीमारियों को ठीक करने में कारगर है। हिमालया सेप्टीलिन आपके रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। जिसके कारण हमारे शरीर कि बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है। सेप्टीलिन आपके श्वसन नलीकाओं में उत्पन्न संक्रमण,गले में उत्पन्न संक्रमण तथा गुर्दे के संक्रमण को भी ठीक करने में सक्षम है।

हिमालया सेप्टीलिन आपके रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाकर बीमारियों को जल्द ठीक करने में मदद करता है। इसमें एंटीपायरेटिक गुण भी मौजूद है जिसके कारण बुखार ठिक करने में भी इसका उपयोग किया जाता है।

हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin syrup) में पाए जाने वाले सामग्रियां


 सामग्रियांमात्रा / 5ml
गुग्गुलु (Guggulu)80 mg
महारास्नादि क्वाथ  (Maharasnadi kwath)30 mg
मंजिष्ठा (Manjistha)15 mg
गुडूची (Guduchi)14 mg
त्रिकटु (Trikatu)13 mg
आमला (Amla)8 mg
मुलेठी (Mulethi)6 mg

  

सेप्टीलिन टैबलेट (Himalaya septilin tablet) में पाए जाने वाले सामग्रियां


सामग्रियांमात्रा in 1 tablet
गुग्गुलु (Guggulu)324 mg
शंख भस्मा (shankha bhasma)64 mg
मंजिष्ठा (Manjistha)64 mg
गुडूची (Guduchi)98 mg
महारास्नादि क्वाथ  (Maharasnadi kwath)103 mg
सहजन (Drumstick)32 mg
मुलेठी (Mulethi)12 mg
आमला (Amla)32 mg

सेप्टीलिन ड्राप (Himalaya septilin Drop) में पाए जाने वाले सामग्रियां


 सामग्रियां
गुग्गुलु (Guggulu)
यष्टिमधु (Yastimadhu)
गुडूची (Guduchi)

हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin tablet,syrup & Drop) में पाए जाने वाले चिकित्सकीय गुण


(Himalaya septilin) हिमालया सेप्टीलिन में एक से अधिक चिकित्सकीय गुणो का मिश्रण पाया जाता है। जिसके कारण या एक से अधिक बीमारियों को दूर कर सकता है तो आइए जानते हैं इस में कौन-कौन से चिकित्साकीए गुण पाया जाता है।

  • हिमालया सेप्टीलिन में एंटीऑक्सीडेंट (Antioxydent) के मात्रा पाई जाती है।
  • यह सिरप एक इम्यून बूस्टर (Immune buster) है।
  • इस सिरप में एंटी माइक्रोबियल्स (Anti microbial) के गुण पाए जाते हैं।
  • एंटीवायरल (Anti viral) में यह सिरप काम करता है।
  • इस सिरप में एनाल्जेसिक (Analgesic) गुण मिले हुए हैं।

हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin syrup,tablet drop) की कीमत


सेप्टीलिन सिरप₹ 99 for 200 ml
सेप्टीलिन टैबलेट₹ 106 for 100 tablets
सेप्टीलिन ड्राप₹ 55 for 1 drop

हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin tablet,syrup,drop) का उपयोग


  • श्वसन नली गांवों के संक्रमण (Upper and lower respiratory tract infection)
  •  ब्रोंकाइटिस (Bronchitis)
  •  फैरिंजाइटिस (Pharyngitis)
  •  टॉन्सिलाइटिस (Tonsillitis)
  •  गुर्दे का संक्रमण (kidney infection)
  •  बुखार (seasonal fever)
  •  एलर्जी की प्रतिक्रिया (Allergy reaction)
  •  मूत्र मार्ग का संक्रमण (Urinary tract infection)
  •  रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में (Immune booster)
  • लैरिंजाइटिस (Lyringitis)
  • खांसी (Cough)
  • त्वचा संक्रमण (Skin infection)

ये भी जानें घरेलु उपचार | बुखार | टाइफाइड बुखार | पुरानी खांसी

ये भी जानें सेप्टीलिन सिरप की पूरी जानकारी

हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin syrup,tablet,drop) का खुराक


हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin) बच्चों में भी सुरक्षित माना गया है हिमालया सेप्टीलिन का उपयोग सभी उम्र के लोगों पर किया जा सकता है।

सभी दवाइयों की खुराक बीमारी की जटिलता और व्यक्ति के उम्र तथा वजन पर निर्भर करता है अगर बीमारी की जटिलता ज्यादा होगी तो दवाइयों की खुराक को भी बढ़ाया जा सकता है। अगर किसी व्यक्ति का वजन ज्यादा होता है उस संदर्भ में भी दवाइयों की खुराक को बढ़ाया जा सकता है। कभी-कभी बीमारियों की जटिलता और व्यक्ति के वजन को देखते हुए दवाइयों की खुराक को दोगुना करना पड़ सकता है। इसके लिए जरूरी है कि दवाइयों के संपूर्ण खुराक को जानने के लिए आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

हिमालया सेप्टीलिन सिरप (Himalaya septilin syrup) का खुराक

सेप्टीलिन सिरपबच्चे1 या 2 चम्मच 3 बार
सेप्टीलिन सिरपवयस्क2 चम्मच 3 बार

हिमालया सेप्टीलिन टैबलेट (Himalaya septilin tablet) का खुराक

सेप्टीलिन टैबलेटबच्चे1 टैबलेट दो बार
सेप्टीलिन टैबलेटवयस्क2 टैबलेट दो बार

हिमालया सेप्टीलिन ड्राप (Himalaya septilin drop) का खुराक

6 महीने से 1 साल के बच्चे3 ml दो बार 
6 महीने से 1 साल के बच्चे3.5 ml दो बार 
6 महीने से 1 साल के बच्चे4 ml दो बार 

किसी भी आयुर्वेदिक दवा कि काम करने की क्षमता धीरे होती है लेकिन वह काम जरूर करता है। इसलिए जब भी आप आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करें यह सोचकर करें कि उसका उपयोग कुछ लंबे समय के लिए करना होगा। बहुत सारे लोग आयुर्वेदिक दवाओ का इस्तमा तो करते हैं लेकिन कुछ दिनों के बाद वह सोचने लगते हैं कि अभी तक कुछ फायदा क्यों नहीं हुआ है और कुछ दिन इस्तमाल करने के बाद वह उन दवाओं को खाना बंद कर देते हैं।  वह सही नहीं होता आप जब भी आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करें पूरी खुराक के साथ करें ताकि उन आयुर्वेदिक दवाओं से आपकी बीमारियां पूरी तरह से खत्म हो सके।

हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin syrup,tablet,drop) का दुस्प्रवाह


हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin) एक आयुर्वेदिक दवा है। इसमें एक से अधिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया गया है। इस सिरप के उपयोग से अभी तक किसी रोगी में किसी भी तरह का दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है। लेकिन आप मधुमेह से ग्रसित हैं तो आप इस सिरप का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। अगर आप हिमालया सेप्टीलिन का उपयोग करते हैं और आप में किसी तरह का दुष्प्रभाव दिखता है, तो आप तुरंत अपने नजदीकी चिकित्सक केंद्र में संपर्क करें।

अक्सर पूछे जाने बाले सवाल

Q – क्या हिमालया सेप्टीलिन की आदत या लत बन सकती है?

नहीं बहुत कम ऐसी दवाइयां है जिस की आदत लगती है

Q – क्या हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin) का इस्तेमाल सभी तरह के बुखार को ठीक कर सकता है?

हिमालया सेप्टीलिन में एंटीपायरेटिक गुण मौजूद होते हैं लेकिन यह सभी तरह के बुखार को ठीक नहीं कर पाएगा इसलिए आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें

Q – क्या हिमालया सेप्टीलिन (Himalaya septilin) का इस्तेमाल गर्भवती महिलाएं या स्तनपान करवाने वाली महिलाएं कर सकती हैं?

गर्भवती महिलाएं या स्तनपान वाली महिलाएं किसी तरह की दवाइयों का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करें

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *