वजन में अप्रत्याशित वृद्धि किसी के लिए भी सुरक्षित नहीं माना जा सकता है। कुछ ऐसी दवाइयां (weight gain tablets) हैं, जिसके दुष्प्रभाव से वजन में अप्रत्याशित वृद्धि देखी गई है। कुछ सामान्य दवाओं के दुर्भाग्यपूर्ण दुष्प्रभाव के कारण वजन में वृद्धि देखी गई है। उन दवाओं में मुख्य रूप से इंसुलिन की दवाइयां, रक्तचाप की दवाइयां, एंटीडिप्रेसेंट, माइग्रेन की दवाइयां इत्यादी शामिल है, जो वजन बढ़ने का कारण बन सकती है, और जिसके लिए इन दवाओं का इस्तेमाल किया जा रहा हो उनके स्वास्थ्य स्थितियों को बिगाड़ सकती है।

और पढ़ें  ceftriaxone inj. | Avil injection

किसी दवाओं का इस्तेमाल बिना किसी डॉक्टर परामर्श के अचानक बंद कर देना आपके शरीर का वजन बढ़ने का यह एक कारण नहीं हो सकता है। हालांकि किसी भी दवाओं का इस्तेमाल करना और उसे बंद करने से पहले डॉक्टर परामर्श आवश्यक होती है।

और पढ़ें   Azithromycin tablet | xone injection

दवाओं के कारण वजन कैसे बढ़ता है?

यह ठीक से कह पाना काफी मुश्किल है, कि किसी व्यक्ति का वजन क्यों बढ़ता है। दवाइयां कई तरीकों से वजन को प्रभावित कर सकती है। दवाओं का दुष्प्रभाव हमारे शरीर को कई तरीके से प्रभावित कर सकता है। यह केवल हमारे शरीर के वसा भंडार को बढ़ाकर शरीर के वजन को नहीं बढ़ाता है। दवाओं से संबंधित वजन बढ़ने के पांच प्रमुख कारण निम्नलिखित दिए गए हैं।

और पढ़ें  मधुमेह के अचूक घरेलु उपचार 

भूख में वृद्धि करना

कुछ दवाइयां जैसे स्ट्राइड्स, एंटीडिप्रेसेंट, एंटीहिस्टामाइन इसका दुष्प्रभाव आपके भूख को उत्तेजित करता है जिसके कारण लोग अधिक खाना शुरू कर देते हैं। अधिक खाने के कारण उनके शरीर में कैलरी अधिक बढ़ने लगती है। आहार या कैलरी और व्यायाम परस्पर ना होने के कारण उनके वजन वृद्धि होने लगती है।

और पढ़ें   पेट गैस का घरेलु उपचार

शरीर में द्रव प्रतिधारण बढ़ना

कुछ ऐसी दवाइयां जो आपके शरीर में मौजूद नमक को प्रभावित करती है। जैसे मधुमेह की दवाइयां, पियोगलिटाजोन इत्यादि। इन दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण शरीर में मौजूद नामक प्रभावित होता है, जिसके कारण पानी का निर्माण बढ जाता है, जिसके कारण शरीर का वजन अचानक बढ़ना शुरू हो जाता है। यह मुख्यतः वसा के मौजूदगी के कारण नहीं होता है।

और पढ़ें   खाँसी की होम्योपैथिक दवाइयाँ

वसा में वृद्धि

कुछ ऐसी दवाई है जो आपके शरीर में वसा निर्माण को बढ़ावा देती है। इसका एक उदाहरण इंसुलिन है। इंसुलिन को बसा भंडार हार्मोन भी कहा जाता है।  यह हमारे शरीर में वसा को नियंत्रित करता है और वसा कोशिकाओं सहित ऊतकों को बसा बनाने के लिए उत्तेजित करता है। जिसके कारण हमारे शरीर का वजन बढ़ना शुरू हो जाता है।

और पढ़ें  Health OK टैबलेट | A to Z टैबलेट

 चयापचय प्रक्रिया कम होना

 कुछ दवाइयां जैसे उच्च रक्तचाप के दवाइयां इत्यादि उच्च रक्तचाप की दवाइयों का दुष्प्रभाव हमारे चयापचय प्रक्रिया को धीमा कर देती है। शरीर में चयापचय प्रक्रिया सुस्त होने के कारण हमारे शरीर में कैलरी जल्दी जल नहीं पाती है और शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़नी शुरू हो जाती है। वजन बढ़ने का यह भी एक मुख्य कारण माना जाता है।

और पढ़ें  cefpodoxime Dogase | Cefixime Dogase

 व्यायाम करने में कठिनाई होना

 कुछ ऐसी दवाइयां जो आपको काम करने या व्यायाम करने में कठिनाई उत्पन्न करती है जैसे एंटीहिस्टामाइन की दवाइयां, यह दवाइयां आपको नींद में डालते हैं और आपके शरीर में आलस उत्पन्न करती है, जिसके कारण आप काम करना और व्यायाम करने की इच्छा प्रकट नहीं कर पाते हैं। एमिटरिप्टिइलाइन और एंटीडिप्रेसेंट की दवाइयां इन दवाओं का दुष्प्रभाव सांस लेने में अधिक कठिनाई उत्पन्न करता है, जिसके कारण व्यायाम करने में कठिनाई उत्पन्न होने लगती है।

और पढ़ें  ठीक कर देगा High blood pressure को

किन दवाओं के कारण वजन बढ़ सकता है? : weight gain tablets.

कुछ ऐसी दवाइयां हैं, जिसके कारण वजन बढ़ने की समस्या अधिक देखी गई है। लेकिन यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है, कि इन दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण शरीर का वजन बढ़ने का मामला जुड़ा हुआ है। लेकिन यह भी कहना गलत होगा कि सभी दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण वजन बढ़ने की समस्या शुरू हो जाती है। सभी रक्तचाप दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण वजन बढ़ने की समस्या नहीं देखी गई है। इसके अलावा प्राप्त किए गए वजन की मात्रा व्यक्ति और दवा के आधार पर अलग-अलग देखी गई है।

दवाओं का समूह वजन वढ़ाने बाली दवाइयाँ (weight gain tablets)
एंटीहिस्टामिन (Antihistamines)  Ranitidine, Diphenhydramine (Benadryl), cetirizine (Zyrtec), Cyproheptadine
रक्तचाप की दवाइयाँ (Blood pressure medications)  Metoprolol (Lopressor), Atenolol (Tenormin), propranolol (Inderal)
अवसादरोधी दवाए और चिंता बिरोधी दवाए (Antidepressant and anti-anxiety medications) Paroxetine (Paxil), sertraline (Zoloft), amitriptyline, trazodone, alprazolam (Xanax), diazepam (Valium)
मधुमेह की दवाइयाँ (Diabetes drugs)  Insulin (Humulin N, Lantus), glipizide, pioglitazone
स्टेरॉयड (Steroids)Prednisone, oral contraceptives, norethindrone, Nexplanon, tamoxifen, dexamethasone.
मनोचिकित्सक दवाइयाँ (Antipsychotics)  Quetiapine (Seroquel), olanzapine (Zyprexa), aripiprazole (Abilify), haloperidol (Haldol)
जब्ती और तंत्रिका तंत्र की दवा (Anti-seizure and nerve pain drugs)Gabapentin (Neurontin), pregabalin (Lyrica), divalproex (Depakote)
ओपिओइड (Opioid)Soxycodone, hydrocodone

कैसे पता करें कि दवाओं के कारण वजन बढ़ रही है।

कुछ ऐसी दवाइयां जो निरंतर इस्तमाल की जाती हैं। या कुछ एसी दवाइयां जो जीवन रक्षक होती है। अगर उन दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण वजन बढ़ने की बात आती है, तो आप दवा लेने के लगभग 6 महीने के भीतर आप यह अनुभव कर सकते हैं, कि आपकी शारीरिक वजन में वृद्धि हुई है। कुछ लोगों में इसका समय 1 साल भी हो सकता है।

अगर आपने अभी-अभी कोई दवा लेना शुरू किया है, और आप अपने कपड़ों को अपने शरीर में टाइट महसूस करते हैं, तो इन बातों पर आपको जरुर ध्यान देना चाहीए।

  • क्या आप अधिक तनाव में हैं?
  • आपने काम करना और व्यायाम करना बंद कर रखा है?
  • क्या आपने अपना आहार हाल ही में बदला है?

आप इन तीनों प्रश्नों का उत्तर ‘नहीं’ में देते हैं, तो आपको अपनी दवाओं पर विचार करने की आवश्यकता हो सकती है। अगर आपके शरीर का वजन अचानक से बढना शुरू हुआ है, और आप कुछ जीवन रक्षक दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो हो सकता है उसके दुष्प्रभाव के कारण आपका शारीरिक वजन बढ़ा हो।

अगर आपके शरीर का वजन किसी दवा के दुष्प्रभाव के कारण बढ़ रहा हो, तो आप उन दवाओं का इस्तेमाल तुरंत बंद ना करें अगर जिस दवा का इस्तेमाल आप कर रहे हैं, और वह जीवन रक्षक दवाइयां हैं, तो उन दवाओं को बंद करने से पहले आप अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें। यदि आप अपने दवाओं को बदलने में रुचि रखते हैं, तो कई मामलों में वैकल्पिक दवाइयां उपलब्ध होते हैं।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *